गुरुवार, 5 नवंबर 2009

अक्षर साधक


अक्षर साधक
विद्या, विनय, विवेक विशारद,
नोदक  नर्तन, कला समर्पित .
दर्पहीन, दरियादिल, दर्पण,
नम्रभावमय, निश-दिन हर्षित .. 
यत्नशील, दृढ़ निश्चयी, कर्मठ ,
नव्य सृजक,  साहित्याराधक,
जीवट, मुदितमाना,  संकल्पी,
यश हो तेरा अक्षरसाधक ..  
-o-

- विजय तिवारी " किसलय "

4 टिप्‍पणियां: