शनिवार, 27 अक्तूबर 2012

28 अक्टूबर को नर्मदा महोत्सव में नृत्य नाटिका "नित नमन माँ नर्मदे" की प्रस्तुति होगी





 28 अक्टूबर  को नर्मदा महोत्सव में नृत्य नाटिका "नित नमन माँ नर्मदे" की प्रस्तुति होगी  


              जबलपुर. शरद पूर्णिमा के अवसर पर नर्मदा महोत्सव में संगमरमर की वादियों के बीच चाँदनी रात का आनंद उठाने हेतु इस वर्ष भी भेड़ाघाट में आयोजित नर्मदा महोत्सव 
में  मध्य प्रदेश शासन पर्यटन विभाग  एवं जिला प्रशासन द्वारा ख्याति प्राप्त कलाकारों के गायन, वादन व नृत्यों की  मनोहारी छटा भी बिखरेगी. साथ ही प्रदेश व देश के कोने कोने में अपनी कला के माध्यम से जबलपुर  का नाम गौरान्वित करने वाले  स्थानीय कलाकारों को भी आमंत्रित किया गया है. इन्हीं में से आर्या स्कूल ऑफ़ डांस एंड 

पर्फार्मिंग आर्ट जबलपुर के कलाकारों  द्वारा नर्मदा महोत्सव के प्रथम दिवस विख्यात पार्श्व गायक कैलाश खेरकी प्रस्तुतियों के ठीक पूर्व  साहित्यकार - गीतकार डॉ. विजय तिवारी "किसलय" द्वारा रचित नित नमन माँ नर्मदे नृत्य नाटिका को ख्याति प्राप्त निर्देशक द्वय श्री इन्द्र पाण्डेय एवं कुमारी वैशाली पाटिल के निर्देशन में अखिलेश पटेल, कु. भक्ति सिंगवाने, श्रुति चौधरी, नूपुर मेहता, जाह्नवी पाथ्रडकर, श्रेया सिजारिया, आकृति जैन, साक्षी जाधव, वैशाली देशमुख, शिवांगी अग्निहोत्री, प्रज्ञा पटेल, आकृति जायसवाल, मेघा जैन, पूर्णिमा खरे, सोम्या चौधरी आदि  कलाकारों प्रस्तुत किया जायेगा। संगीत निर्देशक श्री परशुराम पटेल द्वारा संगीत बढ किये गए नित नमन माँ नर्मदे नामक नर्मदाष्टक के बोलों को  पल्लवी थापा एवं अजिंक्य खडसन ने मधुर  स्वर दिए हैं।


प्रस्तुति-









- विजय तिवारी "किसलय"

4 टिप्‍पणियां: