गुरुवार, 11 मार्च 2010

राज ठाकुर ने दिखाई तबले पर अँगुलियों की जादूगरी

जबलपुर. विगत दिवस अंतरराष्ट्रीय ख्यातिलब्ध तबला वादक एवं महर्षि महेश योगी संस्थान से जुड़े  संगीत व्याख्याता श्री राज ठाकुर का एकल तबला वादन मशाल परिसर, रामपुर में . प्र. रा. वि. . केन्द्रीय कला एवं क्रीड़ा परिषद के अध्यक्ष इंजी. संतोष तिवारी सहित मंडल तथा नगर के संगीत प्रेमियों की उपस्थिति में संपन्न हुआ.



श्री राज ठाकुर ने अपने एक घंटे के तबला वादन कार्यक्रम में देश के विभिन्न घरानों की विशेषताएँ समझाते हुए तबले पर अँगुलियों की जादूगरी दिखाकर श्रोताओं को मन्त्रमुग्ध कर दिया. श्रोता उस समय वाह-वाह कर उठे जब राज ने तबले पर अपनी थिरकती अँगुलियों से वक्रतुंड महाकाय सूर्य कोटि समप्रभः श्लोक और जयति जय जय माँ सरस्वती जयति वीणा धारिणी वंदना के शब्दों की हू--हू बंदिशें प्रस्तुत की, कार्यक्रम की यही पराकाष्ठा थी जब श्रोताओं को तबला वादन में सजीवता का आभास हुआ.

इस अवसर पर शुभकामनाएँ देते हुए परिषद अध्यक्ष इंजी. संतोष तिवारी ने कहा कि चौबीस घंटे तक बिना खाए-पिए एकल तबला वादन का कीर्तिमान रचने वाले विलक्षण कलाकार को सुनना और ऐसी कला का सम्मान करना हम सभी का नैतिक दायित्व है. श्री राज ठाकुर ने अपने उद्बोधन में बताया कि अपनी जन्म स्थली जबलपुर में वे ऐसे ही तबला वादन के नए विश्व कीर्तिमान को गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकार्ड में दर्ज कराना चाहते हैं.
परिषद् प्रभारी श्री के. के. गौतम द्वारा संचालित एवं विजय तिवारी "किसलय " द्वारा संयोजित इस कार्यक्रम में आर टी अंशलाल पंद्रे, विक्रयकर उपायुक्त एम एस मरकाम, मोहन लोधिया, विख्यात आर्टिस्ट सुरेश श्रीवास्तव, शक्ति प्रजापति, विनोद कश्यप, रंजन दासगुप्ता, निरंजन पुरी, संजय मोहरिर, रमेश खड्सन, दिलीप चतुर्वेदी, एस आर थापा, अरुण यादव, रमेश जायसवाल, दीपचंद लढ़िया, छठलाल सिंह, राकेश स्वामी, मदुरै पिल्लई  आदि उपस्थित रहे।

संस्कारधानी जबलपुर में रंग पंचमी पर्व पर आयोजित अंतर राष्ट्रीय ख्यातिलब्ध संगीत व्याख्याता श्री राज ठाकुर के एकल तबला वादन कार्यक्रम जबलपुर के समाचार पत्रों की नज़र में ....


संस्कारधानी जबलपुर में रंग पंचमी पर्व पर आयोजित अंतर राष्ट्रीय ख्यातिलब्ध संगीत व्याख्याता श्री राज ठाकुर के एकल तबला वादन कार्यक्रम जबलपुर के समाचार पत्रों की नज़र में .....




संस्कारधानी जबलपुर में रंग पंचमी पर्व पर आयोजित अंतर राष्ट्रीय ख्यातिलब्ध संगीत व्याख्याता श्री राज ठाकुर के एकल तबला वादन कार्यक्रम के अनूठे दृश्य हेतु [मुझे] क्लिक करें.
प्रस्तुति-
- विजय तिवारी "किसलय"

6 टिप्‍पणियां:

  1. PRANAM KARTA HOON SIR,
    AP KE AGE MERE SHABD MAUN BHI HO JATE HAIN AUR KUCH BOLTA HUN TO GAUND HO JATE HAI,KHAIR ACCHA LAGA KE NAGAR KE SARE SAMACHAR PATRO NE IS KHABAR KO PRAMUKHTA SE CHAPA.
    PUN:KOTI KOTI NAMAN
    SWEEKAREIN

    उत्तर देंहटाएं
  2. बड़ा अनूठा कार्यक्रम रहा होगा..आभार इस रिपोर्ट का.

    उत्तर देंहटाएं
  3. कार्यक्रम में शामिल करने के लिये धन्यवाद:) बढिया रपट. पन्द्रे जी का नाम पढ कर बहुत अच्छा लगा.

    उत्तर देंहटाएं
  4. aapke is karyakram ka varnan bahut hi manmohak raha saath hi rang panchmi ki badhai .

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत ही सुन्दर और बढिया रपट!
    नववर्ष एवं नवरात्रि पर्व की हार्दिक शुभकामनाऎँ !

    उत्तर देंहटाएं
  6. NAVRATRI KI HARDIK SHUBHKAMNAYEN,SAB APKI MEHNAT KA PRATIFAL THA SIR,RAJ THAKUR KA PROGRAMME APKI HE DEN THA,IS GAREEB KI KUTIYA MAIN MAHANUBHAV KAB PADHARENGE.

    उत्तर देंहटाएं